महिना भर से अधिक का राज दे दिया इन्हें .. दशकों कि बात बराबर करने को इत्ते काफी थे

बहुत हो गया कांग्रेस मुक्त भारत और बदलाव की बात .. महिना भर से अधिक का राज दे दिया इन्हें .. दशकों कि बात बराबर करने को इत्ते काफी थे .. लेट्स प्रे फार आवर ओल्ड मालिक .. वी फील अपने जैसे टाइप्स विद ओल्ड मालिकान

Read More

महंगाई के अलावा मुद्दे और भी है – सैकड़ों अपने लोग फंसे है ईराक में

भाग- भाग के इंटनेशनल होने की क्या जरुरत .. देश में क्या परेशानी कम है जो दूर की ख़ुशी बाँचे .. चलो तुम लोकल ही रहो .. अच्छा पंडित .. उसमे भी एक लोकल मामला है .. सुनो तो .. सैकड़ों अपने भाई लोग और ठीक ठाक बहन जी लोग फंसे है उधर शांति सदभाव के बीच सत्ता परिवर्तन वाले ईराक में…

Read More

भाषा रे भाषा तेरा रँग कैसा – जिसमे मिला दो उसी के जैसा।

इन मामलों का सत्यानाश बुद्धि और राज की नीति ने किया है वरना भाषा तो जहाँ जिससे मिली उसमे समा अपना – अपना स्वाद बखूबी अलग सम्हाले और महसूस कराती रही।

Read More

अंडों की खोज से चंटू -बंटू के उड़ने तक

माँ .. को जब पहली बार किचन में इन अंडों के होने का पता चला तो उनका कहना था .. हे भगवान .. किचन में अंडा .. फिर .. तुरत बोलीं .. रहने देना इसे , कुछ करने की जरुरत नहीं।

Read More