इसलिए श्री हरि के हैं चार हाथ

त्रिदेवों में सबसे बड़े भगवान शिव के तीन नेत्र हैं । सर्वप्रथम उन्होंने ही अपनी अंतर्दृष्टि से श्रीहरि को जन्म दिया । क्षीरसागर निवासी विष्णु

Read More