क्या इन बातों को अपनाने से होता है समस्यायों का समाधान ?

क्या इन बातों को अपनाने से होता है समस्यायों का समाधान ?

अपना पूर्वांचल किसी भी प्रकार के गलत धारणा को बढ़ावा नहीं देता है | इस लेख में वर्णित समस्त धारणाएं सुनी हुयी बातों पर आधारित हैं | इसका कोई वैज्ञानिक या नैतिक कारण ज्ञात नहीं है|

ज्योतिष में महिलाओं के लिए कुछ अलग और पुरुषों के लिए किसी समस्या का अलग-अलग समाधान बताया जाता है । ऐसा माना जाता है कि कुछ टोटके सिर्फ महिलाओं द्वारा ही संपन्न हो सकते हैं । अगर महिलाएं टोटके रूपी इन छोटी-छोटी बातों को अपना लें तो घर में हमेशा सुख और शांति रहती है और इसके साथ ही परिवार के सभी सदस्यों का स्वास्थ्य बेहतर रहता है । रात को सोने से पहले रसोई के सभी जूठे बर्तन धोकर तथा रसोई को साफ करके सोना चाहिए । इससे घर पर हमेशा लक्ष्मी का वास होता है । इससे घर में वैभव , संपन्नता और शांति आती है ।

पहले ऐसी धारणा थी कि सूर्यास्त ढलने के बाद यदि कोई बाहर का व्यक्ति आपसे दूध अथवा दही मांगे तो नहीं देना चाहिए, ऐसा करने से उस घर की लक्ष्मी दूसरे के घर चली जाती है | अब समय व् उन्नति के साथ यह विचार सार्थक नहीं रहा| ऐसी ही एक और धारणा सेंधा नमक द्वारा नकारात्मक ऊर्जा को घर से बहार निकालने को लेकर भी है| धारणा के अनुसार, सप्ताह में एक बार रात को सोने से पहले घर के सभी कमरों में थोड़ा-थोड़ा (लगभग 100 ग्राम से ढाई सौ ग्राम तक कमरे की साइज के हिसाब से ) सेंधा नमक या काला नमक एक अखबार के ऊपर रखकर फर्श पर रख दें । सुबह उठते ही बिना किसी से बात किए इस नमक को इकट्ठा करें और पास के किसी गंदे नाले में फेंक आयें । इससे घर की समस्त नकारात्मक ऊर्जा बाहर निकलकर सकारात्मक ऊर्जा आती है । वास्तु शास्त्र की मान्यता है कि नमक के पानी से पोछा लगाने पर घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। ( रविवार के दिन ऐसा करना वर्जित माना गया है) ।

मुख्य द्वार के पास कचरा- कूड़ा न रखें इससे पड़ोसियों से संबंध खराब होते हैं और घर में लक्ष्मी प्रवेश नहीं करती हैं । इसलिए मुख्य द्वार के पास कचरा न रखें । सोने से पहले झाड़ू को दक्षिण- पश्चिम दिशा में छुपा कर रखें इससे धन का लाभ होगा ।

सोने से पहले बाल न खोलें । खुले बाल नहीं सोना चाहिए । सोने से पहले बाल को बांध लेना चाहिए । महिलाओं को सोने से पहले अपने बालों को नहीं धोना चाहिए , ऐसा करना हानिकारक हो सकता है । सूर्यास्त के बाद महिलाओं को किसी के घर दूध , दही , नमक , तेल और प्याज लेने नहीं जाना चाहिए ऐसा करने से उनके जीवन में बाधाएं आती हैं और कष्टों का सामना करना पड़ता है ।

रात को सोने से पहले रसोई में एक बाल्टी पानी भरकर रखें । इससे घर में सुख समृद्धि का वास होता है , जबकि खाली बाल्टी घर में तनाव और चिंता लेकर आती है । सोते समय सिरहाने पानी रखकर न सोयें । बगल में पानी रख सकते हैं । यदि किसी ने घर पर कुछ करवा रखा है तो वह भी सदा के लिए समाप्त हो जाता है ।

अपना पूर्वांचल किसी भी प्रकार के गलत धारणा को बढ़ावा नहीं देता है | इस लेख में वर्णित समस्त धारणाएं सुनी हुयी बातों पर आधारित हैं | इसका कोई वैज्ञानिक या नैतिक कारण ज्ञात नहीं है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *