एकदंत (गणपति)के पूजन में रखें विशेष ध्यान

एकदंत (गणपति)के पूजन में रखें विशेष ध्यान

गणेश भगवान प्रथम पूज्य देवता हैं । अगर आप अपने घर और दफ्तर में गणेश प्रतिमा की स्थापना करते हैं तो आपको उनकी पूजा से पूर्व कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए :-

  • श्री गणेश जी की मूर्ति या चित्र में इस बात का ध्यान रखें कि उनकी सूंड बाएं हाथ की ओर घूमी हुई हो । दाएं हाथ की ओर घूमी हुई सूंड वाले गणेश जी हठी होते हैं ।
  • घर में भगवान गणेश की बैठी मुद्रा में और दुकान या ऑफिस में खड़े गणपति की मूर्ति या तस्वीर रखना शुभ माना जाता है ।
  • घर और दुकान में गणेश जी की मूर्ति रखते समय ध्यान रखें कि उनके दोनों पैर जमीन का स्पर्श करते हुए हों । इससे कामों में स्थिरता और सफलता आती है ।
  • सर्व मंगल कामना करने वालों को सिंदूरी रंग के गणपति की आराधना करनी चाहिए , ऐसा करने से सभी मनोकामनाएं जल्दी पूरा होती हैं ।
  • श्री गणेश जी की मूर्ति स्थापित करते समय इस बात का ध्यान रखें कि भगवान का मुंह दक्षिण दिशा की ओर न हो , इससे घर दुकान पर विपरीत प्रभाव पड़ सकता है ।
  • घर में श्री गणेश का चित्र लगाते समय ध्यान रखें कि चित्र में मोदक और चूहा अवश्य हो इससे घर में बरकत होती है ।
  • घर के मेन गेट पर गणपति की दो मूर्ति या चित्र लगाना चाहिए । उन्हें ऐसा लगाएं कि दोनों गणेश जी की पीठ मिल रहे हो । ऐसा करने से सभी वस्तुदोष खत्म हो जाते हैं ।
  • घर का जो हिस्सा वास्तु के अनुसार सही न हो वहां घी मिश्रित सिंदूर से श्री गणेश स्वरूप स्वास्तिक दीवार पर बनाने से वास्तु दोष का प्रभाव कम होने लगता है ।
  • घर दुकान में सुख – शांति समृद्धि की इच्छा रखने वालों को सफेद रंग के विनायक की मूर्ति या तस्वीर लगाना चाहिए ।
  • घर के ब्रम्ह स्थान यानी केंद्र में और पूर्व दिशा में मंगलकारी श्री गणेश जी की मूर्ति या चित्र जरूर लगाना चाहिए । ऐसा करना बहुत शुभ माना जाता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *